VIDOZEE

Section 375: The Debate (Dialogue Promo 4) | Akshaye Khanna | Richa Chadha | Releasing 13 September - Vidozee

Section 375: The Debate (Dialogue Promo 4) | Akshaye Khanna | Richa Chadha | Releasing 13 September
T-Series — Published 2 weeks ago
Likes: 5, 789 — Dislikes: 477
213, 109 views

Description

Presenting the dialogue promo 4 from the upcoming movie Section 375.

SCIPL Present A Panorama Studios Production
Directed by Ajay Bahl
Produced by Kumar Mangat Pathak, Abhishek Pathak & SCIPL
Starring Akshaye Khanna, Richa Chadha, Meera Chopra & Rahul Bhat
___
Enjoy & stay connected with us!
👉 Subscribe to T-Series: http://bit.ly/TSeriesYouTube
👉 Like us on Facebo...

Embed & Share

  • Facebook Share
  • Twitter Share
  • WhatsApp Share

Keywords

Comments

FRAZIX
FRAZIX Men rape women
Men save women from rapists,criminals,etc
Not all mens aare bad🙏
Gaana Composer
Gaana Composer कल जो करनी थी तुमसे बात मुझे
न आये रह गई बात वही
कल जो करनी थी तुमसे बात मुझे
तुम न आये रह गई बात वही
जाने क्यू हो खफ़ा थोड़ा सा वफ़ा
देके दर्द मुझे दि ऐसी सिला
दिल मे रह, ओ दिल मे दब गई
तेरी याद जुदा, ओ.. तेरी याद जुदा
कल जो करनी थी तुमसे बात मुझे
न आये रह गई बात वही
कल जो करनी थी तुमसे बात मुझे
तुम न आये रह गई बात वही

बदले कई मौसम भी आते देखे कई मौसम
सर्द रातों से भरी दिल के जज्बातो से लिखी
कुछ ऐसी मेरी दिल के रंगों से सजी
है कहानी तेरे नाम करके बितानी
कल जो करनी थी तुमसे बात मुझे
न आये रह गई बात वही
कल जो करनी थी तुमसे बात मुझे
तुम न आये रह गई बात वही

मेरे दिल को सुकू है न दिल को करार
ये दिल कँही लगता नही अब तेरे शिवा
मेरे दिल को सुकू है न दिल को करार
ये दिल कँही लगता नही अब ओ मेरी जान
मैं फिरता था लेके हाथो में हाथ तेरा
क्यू ऐसा सज़ा दी मिली ऐसी वफ़ा दी
क्या मेरी खता थी तूने ऐसी सजा दी
बोलो न क्या मेरी खता थी
कल जो करनी थी तुमसे बात मुझे
न आये रह गई बात वही
कल जो करनी थी तुमसे बात मुझे
तुम न आये रह गई बात वही

कोई तो......😢😢😢😢😢
मेरे लिखे songs को read करके
शेयर और शेयर कर दे
अगर आप ओरिजिनल चीज में विश्वाश करते है..ये नकलची वालो के लिए नही है
🙏कृपया वे इग्नोर करें
MR1 Anand
MR1 Anand 1-Log gender par ladte rah jate
Sahi hai aur galat par koi nahi ladta

2- mene bahut Se parivar ladkiyon ki wajah se v barbad hote dekhe h unpar ungali koi nahi uthata
3- Nafrat bhar di h in akhbaron ne
Warna panchayat pahle bhi laga karti thi
4 -desh me do tarah ki soch log rkhte rhte h
Ye achche ghar se h lag rha isne nahi kiya hoga
Aur ye gareeb ghr se h isne hi kiya hoga
5- Aasan h kisi ko doshi bana dena
Par nirdosh hone k bad uski ijjat use dila pao to jane
6- khairiyat me h sab saza sunane wale
Hal uska pucho jisne jurm nahi kiya
Rajeev Ranjan
Rajeev Ranjan There is a big difference between accuse and found guilty. So accuse identity why needed to be disclose ?
Saddu
Saddu's Channel06 I'm waiting for this movie 😍😍
<